Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi

Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi, Dosto aaj ham aapko kucch aise  nuskhe (ilaj ke tarike ) ke baaare main batane ja rahe hai ke aap apne Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain aur apne aap ko kaise swasth rakhain in hindi.

Kya Karain :

  1. वर्ष भर मे इस विधि से एक ही बार आंतों की सफाई करें ,बार बार नहीं
  2. 70 वर्ष की समयावधि में हमारी आंतें 100 टन खाद्य सामग्री व 40000 हजार लीटर तरल का प्रोसेसिंग करने की प्रक्रिया करती है
  3. इसका मतलब यह है कि हमारे बाडी में 6 किलो 800 ग्राम ( 15 पाउंड ) मल और जहरीला कचरा जमा है जो हमारे खून को दूषित करने के साथ शरीर को अपूरणीय क्षति करता है
  4. आंतें साफ नहीं होने से लगातार कब्ज – पाचन की परेशानी – मधुमेह – अत्यधिक या अपर्याप्त वजन – गुर्दे और जिगर की बीमारी – श्रवण और दृष्टि समस्याओं – त्वचा – बाल और नाखून की समस्याएं व अन्य रोगों के साथ ही गठिया से ले कैंसर जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं
  5. इसलिए आप आंतों की सफाई कर शरीर में जमा कफ – मल निकाल – आंतों से बैक्टीरिया (परजीवियों ) को नष्ट कर बहुत सी स्वास्थ्य संबंधी परेशानीयों को रोक कर रोगों से निजात पा सकते हैं !

  6. एनीमा से आंत के मात्र 40 – 50 सेंटीमीटर के एक छोटे से हिस्से को साफ कर सकते हैं – यह महंगा – असुविधाजनक और आंतों व स्वास्थ्य के लिये नुकसानदायक भी है !
  7. एक ऐसे प्राकृतिक तरीके से आंतों की सफाई व शरीर में जमा मल – कफ व बैक्टीरिया का निष्कासन किया जायेगा तो शरीर के अंग तेजी से वजन सामान्य बनाने – वसा जलाने व पाचन क्रिया सही करने में सहयोग प्रदान करेंगे – इससे शरीर के पाचन प्रणाली पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है !
  8. इसके लिये हमें चाहीये रोजाना मात्र 3 सप्ताह के लिये 1 से 3 बडी चम्मच ” अलसी का आटा और गाय मां के दूध से निर्मित दही 100 से 150 ग्राम ” ….
  9. यह दो घटकों का Colon सफाई मिश्रण आपके कमर पर व शरीर में जमा अपशिष्ट निकाल – शरीर का प्राकृतिक तरीके से शुद्धिकरण करेगा !
  10. मात्र 3 सप्ताह के लिये नाशते की बजाय इस मिश्रण का ऐसे सेवन करें
  11. पहला सप्ताह :- 1 टेबल स्पून अलसी का आटा व 100 एम.एल. दही !
  12. दूसरा सप्ताह :- 2 टेबल स्पून अलसी का आटा व 100 एम.एल. दही !
  13. तीसरा सप्ताह :- 3 टेबल स्पून अलसी का आटा व 150 एम.एल. दही !   और देखें …..–  कैसे दुम दबा के भाग गया आपके शरीर से मोटापा !

    –  कैसे चयापचय विकारों से निजात मिल सुधर गया शरीर का पाचन तंत्र !

    गधे के सिर से सिंगों की तरहा कैसे गायब होती है आपके पेट की परेशानीयां …

    Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi:

    ( कोलाइटिस – पेट और ग्रहणी अल्सर )
    * पाकाशय शोथ
    * कोलाइटिस
    * संक्रमणों
    * मूत्राशयशोध सिस्टायसिट
    * वृक्कगोणिकाशोध
    * जठरांत्र पथ
    * मूत्र पथ के रोगों
    * शरीर के अत्यधिक वजन
    * लिपिड चयापचय विकार
    * पेट और ग्रहणी अल्सर
    * श्वसन तंत्र के सूजन

    Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi

    ???? उपरोक्त स्वास्थ्य सबंधी परेशानीयों के निराकरण में यह बहुत कारगार है !

    ???? जरूरत मुताबिक फलेक्स सीड ग्राईण्डर में डाल रोजाना आटा त्यार करना है !

    ???? दिन भर में कम से कम 2 लीटर पानी पीना जरूरी है ! यदि संभव हो तो पानी में शहद मिला के पीयें – इससे बहुत अच्छा परिणाम मिलेगा

    ???? फलेक्स सीड आटा शरीर से विषाक्त पदार्थों को अवशोषित कर शरीर से बाहर निकाल देता है और रक्त में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम कर देता है

    ???? विशेष :- वर्ष भर मे इस विधि से एक ही बार आंतों की सफाई करें – बार बार नहीं !

    Dosto main ummeed karta hu ke aapko apni sehat ki bahut chinta hai to iss ooper diye tarike se aap apne aap ko healthy rakh saktey hain.

    Friends Jahan tak mey jaanta hoon samujhta, hoon , aap ko hamari ye post Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi bhee pasand aaye hogi, Aasha karta hoon ki aap apney comments or sujhab humko nichey diye gaye comment box main bhejtey rahengey. Yadi aap ko kahee koi bhee problem aa rahee hai then aap apnay Questions humko likh kur bhej suktey hain, hum aap ko Turant Answer denay ki koshish karengey.

    Kripya ooper diye hue kisi bhi ilaj ko karne se phle kisi doctor ka pramarsh zarur le.

    This Article is posted with the help of Dr. Izazuddin Shafi.

2 thoughts on “Intestine yani apni aaton ki safai kaisey karain in hindi

  • 28/06/2016 at 5:47 PM
    Permalink

    kya nashte m sirf yahi lena h or kya jaruri h ki dahi sirf gaay mata ke hi dudh ki ho amul ya mother dairy ke dudh ki dahi use nahi kr sakta kya

    Reply
    • 29/06/2016 at 10:25 PM
      Permalink

      Nagendra g. Aap Mother dairy ya amul ka bhi doodh , dahi istemaal kar saktey hain lekin sabse badhiya ye hai ke yadi aap ghar main jamayi huyi dahi istemaal karain kyuke ismain preserve karne ke liye koi chemical nahi honge jabki amul ya mother dairy ki dahi main wo log preservatives (khane ke saaman ko kuchh dino tak sahi banaye rakhne ke liye use hotey hain) kartey hain. to zyada sahi ye hee hai ke aap ghar ka jama hua dahi hee istemaal karain.

      Dhanyawaad…… Get well Soon…….

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *